Home - हिन्दी - BBC हिन्दी - ज्योति पासवान: एक मकान और आठ साइकिलें, लेकिन अब पहले जैसी भीड़ नहीं

ज्योति पासवान: एक मकान और आठ साइकिलें, लेकिन अब पहले जैसी भीड़ नहीं


18 October 2020 01:58

लॉकडाउन के दौरान ज्योति पासवान अपने बीमार पिता को साइकिल पर बैठा कर गाँव ले आईं थीं. उसके बाद से ही, ज्योति के घर पर लोगों का तांता लग गया था.
ज्योति पासवान: एक मकान और आठ साइकिलें, लेकिन अब पहले जैसी भीड़ नहीं. This article is published at 18 October 2020 01:58 from BBC Hindi Top Headlines, click on the read full article link below to see further details.


Read Full Article on BBC हिन्दी >>

Tags : ज्योति, पासवान, मकान, साइकिलें, लेकिन, पहले, जैसी, भीड़, नहीं